55+ Suparfast Weight Loss Tips in Hindi - वजन घटाने के तरीके


How To Loss Weight in Hindi : आजकल की तेज जीवन शैली मे अपने शरीर का ख्याल रखना एक चुनोतीपूर्ण काम बन गया है। इस life style का सबसे बड़ा असर इंसान के वजन पर पड़ा है। यही कारण है की over weight वाले लोगो की संख्या दिन प्रति दिन बढ़ रही है। इस पोस्ट मे हम fast weight loss tips in hindi, best yoga for weight loss in hindi, best exersize for weight lost in hindi और वजन घटाने कम करने के सभी टिप्स जानेंगे। 

वैसे तो मोटापा कोई बीमारी नहीं है, पर ये उस धीमे जहर की तरह है जो धीरे धीरे आपको बड़ी बढ़ी बीमारियों की और ले जाती है। और ऐसा शायद ही कोई होगा जो अपने बढ़े हुए वजन से परेशान न हो। 

weight loss tips in hindi, wajan ghatane ke tarike, how to loss weight fast in 7 day tips in hindi, naturat weight loss tips n hindi, ayurvedic weight loss tips in hindi
Suparfast Weight Loss Tips in Hindi - वजन घटाने के तरीके


वजन कम करना कोई आसान काम नहीं है,ये बात 100% सही है। क्यूंकी मोटापा अपने साथ एक ऐसी बीमारी को लता है जिसे हम आलस कहते है। ये तो सभी जानते है की आलस इंसान का सबसे बड़ा शत्रु है। और इसी आलस के कारण कभी कभी वजन इतना बढ़ जाता है की आप चाह कर भी उसे कम नहीं कर पाते।

तो फिर क्या करे ?

वजन कम करने के लिए सबसे ज्यादा महत्व पूर्ण है अपनी lifestyle को अनुसशित करना। तभी आप हमेशा के लिए वजन को नियंत्रित कर पाएंगे। 

Best Weight Loss Tips in Hindi


इस पोस्ट मे हम तेजी से natural तरीके से वजन कैसे कम करे और वो भी बिना किसी side effects के उसके बारे मे कुछ simple tips के बारे मे बात करेंगे। आशा करता हूँ की ये उपाय आपको वजन कम करने मे मदद करे और एक स्वस्थ जीवन प्रदान करे। 

वजन कम कैसे करे - वजन घटाने के उपाय 





How To Lose Weight At Home Tips In Hindi


वजन घटाने की शरूआत आप को अपने घर से ही करनी चाहिए। आपको अपने घर से ही अपनी जीवन शैली मे कुछ आसान से बदलाव करने पड़ेंगे। और ये काम बहोत आसान है। तो चलिये अब जानते है की आप अपने घर पर वजन कैसे कम कर सकते है उसके कुछ tips.

1. बहोत सारा पानी पीना शरू करे :

अगर आप अपना weight loss करना चाहते है, तो आपको शुरुआत अपनी छोटी छोटी आदतों को बदलने से करनी चाहिए। सबसे पहले तो आपको दिन मे ज्यादा से ज्यादा पानी पीने की आदत डालनी होगी। ज्यादा पानी पीने से वजन कम होता है ये कई बार साबित हो चुका है। इससे वजन घटने के एक कारण ये है की इससे भूख कम लगती ही। 

2. सुबह को पौष्टिक नाश्ता ले :

अगर आप सुबह को नाश्ता नहीं करते है, तो आप सुबह को नाश्ता करना start कर दीजिये। आपको हर सुबह protein से भरपुर नाश्ता करना चाहिए। 

3. खाने को अच्छी तरह से चबाकर खाएं :

वजन बढ्ने का एक कारण है खाने का सही तरीके से ना पचना। आज कल हम जल्दबाज़ी मे बहोत जल्दी खाते है, जिसके कारण खाना सही तरीके से पच नहीं पता है। खाना हमेशा चबाकर कर और आराम से खाना चाहिए । 

4. खाने से पहले फलों का सेवन करे :

फलो मे ज्यादा fat नहीं होता और protein ज्यादा होता है, इसलिए आपको दूसरी चीजों से ज्यादा फल खाने पर ध्यान देना चाहिए। और फल आसानी से पच भी जाते है। 

5. सप्ताह मे एक दिन का उपवास करे

सप्ताह मे एक दिन का उपवास करने से पेट को आराम मिलता है, जिससे आपका पाचनतंत्र भी बहेतर होने लगता है। इस लिए आपको सप्ताह मे एक दिन का उपवास अपने वजन को नियंत्रित करने के लिए जरूर रखना चाहिए। 

6. Regular Exercise करे :

अगर आपकी desk job है और आपके पास active रहने के लिए समय नहीं है तो आपका वजन बढ्ने लगता है। इसका सीधा सा उपाय है आपको हर दिन कम से कम 30 मिनिट का टाइम कसरत के लिए नीकालना चाहिए।  

7. उचित नींद ले

अगर आप संतुलित नींद नहीं ले पा रहे है तो उससे आपके स्वास्थ्य पर बुरा असर पड़ता है, और इसका सबसे ज्यादा नुकशान ये होता है की इससे आपका वजन बढ्ने लगता है। इसलिए आपको कम से कम 7 घंटो की नींद अवश्य लेनी चाहिए। 

Tips For Weight Loss In 7 Days In Hindi


ऊपर दिये गए उपाय से आप अपनी दिनचर्या को नियंत्रित करके वजन घटाने की और अपना पहला कदम बढ़ाएँगे। उसके बाद आपको अगर तेज़ी से वजन कम करना है तो नीचे दिये गए उपाय आपकी मदद करेंगे। 

1. Junk Food खाना बंद करे :

अगर आप fast food खाने के शौकीन है और आप उसे खाना बंद नहीं करते तो आप वजन नहीं घटा सकते है। इन junk foods मे बहोत सारा fat होता है, जो शरीर मे चर्बी जमा करता है। इसलिए अगर आप वजन घटाने के बारे मे serious है तो आपको junk foods खाना बंद कर देना चाहिए। 

2. समय पर भोजन कर ले :

आपका खाने का एक time table होना चाहिए, और आपको उसी time table को हर रोज follow करना चाहिए। वजन बढ्ने के एक कारण ये भी है की हम टाइम पर भोजन नहीं करते, और ज्यादा देर तक भूखे रहने के बाद जब भोजन करते है तब एक साथ बहोत सारा खाना खा जाते है। इसलिए हमे टाइम पर नियंत्रित भोजन करना चाहिए। 

3. सुबह 10 AM से पहले की नाश्ता कर ले :

वजन घटाने के लिए सुबह का नाश्ता आपको 9 बजे से 10 बजे के बीच कर लेना चाहिए। सुबह को अगर आप भरपूर नाश्ता कर लेते है तो पूरा दिन आपको ज्यादा भूख नहीं लगती है और उससे weight loss मे तेज़ी आती है। 

4. रात का खाना 8 PM से पहले कर ले :

रात को अगर आप dinner मे जितनी देरी करते है उसका आपके स्वास्थ्य पर बुरा प्रभाव पड़ता है। इसलिए आपको हमेशा रात का भोजन 8 बजे से पहले या हो सके तो सूर्यास्त से पहले कर लेना चाहिए। और रात को कम ही खाना चाहिए। 

5. ज्यादा पके हुये भोजन को बंद करे :

ज्यड़ा पका हुआ भोजन पाचनतंत्र के लिए सही नहीं है, इस लिए आपको ऐसे भोजन से दूरी बनानी चाहिए। ज्यादा तले हुए खाने को भी बंद करना चाहिए। 

6. सुबह को Running Start कर दे :

तेज़ी से वजन कम करने के लिए आपको सुबह उठकर दौड़ने के शुरुआत कर देनी चाहिए। Running को सबसे बेस्ट exercise कहा जाता है, क्यूंकी इससे शरीर के सभी अंगो की कसरत हो जाती है। 

7. Gym Join करके Weight Training करे :

Weight Training करने से आपको अधिक तेजी से वजन कम करने मे मदद मिलती है, इसलिए आपको किसी gym को join करके weight training start कर देनी चाहिए। 

Yoga Tips For Weight Loss In Hindi


1. कपालभाती प्राणायाम :

पेट की चरबी घटाने के लिए यह एक रामबाण उपाय है। इस आसन को करने से शरीर का वज़न कम होता है। इस गुणकारी आसन के प्रभाव से मोटापा घटाने में तो मदद मिलती ही है पर, उसके साथ साथ चहेरे की सुंदरता में भी निखार आता है। 

अगर किसी को आँखों के नीचे dark circles हो जाने की शिकायत रहती हो तो उन्हे कपालभाती आसन रोज़ करना चाहिए। 

पेट की तकलीफ़ों से पीड़ित व्यक्ति भी कपालभाती कर के पेट के रोगों से मुक्ति पा सकते हैं। कब्ज़, पेट दर्द, खट्टी डकार, एसिडिटी और अन्य प्रकार की पेट की बीमारियाँ कपालभाती करने से खत्म हो जाती हैं। कपालभाती करने से शरीर में positive ऊर्जा का संचार होता है और यादाश्त भी बढ़ती जाती है।

 कपालभाती गले से जुड़े हर रोग को नष्ट कर देता है।

2. अनुलोम विलोम प्राणायाम :

इस प्राणायाम को नाड़ी शोधन आसन भी कहा जाता है। अनुलोम विलोम शरीर में blood circulation दुरुस्त रखने में मददगार होता है। मानव शरीर में सब से ज़्यादा चरबी, पेट, कमर और जाँघों के आसपास जमा होती है। 

इस आसन के प्रभाव से पेट अंदर हो जाता है। पेट की चरबी भी घट जाती है। अनुलोम विलोम से शरीर में फुर्ती महसूस होती है, साथ ही शरीर का अतिरिक्त वज़न भी काबू में आ जाता है।

3. धनुरासन :

इस योग आसन में शरीर की आकृति सामान्य तौर पर खिंचे हुए धनुष के समान हो जाती है, इसीलिए इसे धनुरासन कहते हैं। धनुरासन से पेट की चरबी कम होती है। इससे सभी आंतरिक अंगों, मांसपेशियों और जोड़ों का व्यायाम हो जाता है। इसे करने के लिए सबसे पहले पेट के बल लेट जाये।

फिर दोनों पैर आपस में एक-दूसरे से जोड़ें। दोनों पैरों को घुटनों से मोड़ें। घुटनों तथा पंजों के बीच में एक फुट का अंतर रख कर दोनों पैरों के टखनों को हाथों से पकड़ें। हाथों के सहारे दोनों पैरों के घुटने, जांघ तथा धड़ को सुविधानुसार एवं क्षमतानुसार ऊपर उठाएं। श्वास-प्रश्वास सहज रखें।

 इस स्थिति में आरामदायक अवधि तक रुक कर वापस पूर्व स्थिति में आएं। 

4. नौकासन :

पेट और नाभी के आसपास के भाग को सुडौल बनाने के लिए यह एक गुणकारी आसन है। इस आसन के प्रभाव से हमारी पाचन प्रणाली भी मज़बूत होती है।

 जब खाना ठीक से पाचन होता है तो शरीर में एक्सट्रा फैट जमा नहीं होता है और वज़न भी काबू में रहेता है। नौकाआसन करने से हमारी शरीर की छोटी आंत और बड़ी आंत को व्यायाम मिलता है। इस आसन को नित्य करने से आंतों से जुड़ी बीमारियाँ होने का खतरा नहीं रहेता है।

 और अगर किसी को आंतों से जुड़े रोग हैं तो वह व्यक्ति डॉक्टर की सलाह के बाद नित्य, नौकाआसन कर के आंतों के रोगों से मुक्ति पा सकता है।

5. पूर्वोत्तानासन :

इस आसन से चर्बी घटाने में आसानी होती है। यह शरीर के निचले भाग और बाजुओं को सुडौल बनाने के लिए अच्छा आसन है। इससे शरीर लचीला रहता है। 

इसे करने के लिए अपने पैरों को सामने की ओर फैलाकर सीधे बैठ जाएं। ध्‍यान रखें कि पंजे जुड़े हुऐ और रीढ़ की हड्डी सीधी होनी चाहिए। 

अब दोनों हाथों को जमीन पर टिकाकर कमर के निचले हिस्से को ऊपर की ओर उठाएं। कुछ सेकंड इस अवस्था में रहने के बाद वापस सामान्य अवस्था में आ जाएं। 

6. बालासन :

यह आसन तेज़ी से वज़न कम करने के लिए काफी उपयोगी है। पेट, कमर और जांघों की चरबी इस आसन से तुरंत कम होने लगती है। बालासन के नित्य प्रयोग से शरीर की मांसपेशियां मज़बूत होती हैं।

 अगर पेट की तोंद बाहर निकली हुई है, और नाभी शर्ट के बटन से बाहर जांकने लगी है तो बालासन आप की यह समस्या कुछ ही दिनों में दूर कर देगा। 

इस आसन को रोज़ दिन में सुबह के समय पाँच से दस मिनट करने से पेट तुरंत अंदर होने लगेगा।

7. उष्ट्रासन 

उष्ट्रासन में ऊंट  की आकृति बनाई जाती है। इसी कारण इस उष्ट्रासन कहा जाता है। यदि पेट ज्‍यादा निकला है तो इस योग से आपका पेट, कमर, छाती और बाहों पर असर पड़ता है।

 इसे करने के‍ लिए वज्रासन में बैठ क अपने घुटनों के बल खड़े हो जाये। घुटनों से कमर तक का भाग सीधा रखें व पीठ को पीछे की ओर मोड़कर हाथों से पैरों की एड़ियां पकड़ लें। अब सिर को पीछे की आरे झुका दें। i

Homemade Tips For Weight Loss In Hindi


1. नींबू और शहद 

एक ग्लास थोड़ा गरम पानी ले कर उसमे एक चम्मच काली मिर्च पाउडर, और चार चम्मच नींबू पानी, तथा एक चम्मच शहद मिला कर नित्य हर रोज सुबह पीने से वजन कम होता है, और अगर खाली पेट सुबह में गरम पानी में नींबू निचोड़ कर उसमे एक चम्मच शहद मिला कर रोज पिये तो भी वजन कम होता है।

2. गोभी के पत्ते

गोभी के पत्ते वजन कम करने के लिए काफी फायदेमंद होते है। कच्चे सैलड में गोभी के पत्ते उबाल कर, या फिर कच्चे खाने से वजन कम होता है।

3. टमाटर का सूप

भोजन के पहले टमाटर का सूप पीने से या टमाटर कच्चे खाने से भी वजन कम होता होता है।

4. प्‍याज और लहसुन

आपने देखा होगा कि मजदूर लोगों और खेतों में काम करने वाले लोगों का पेट बिल्‍कुल भी बढ़ा हुआ नहीं होता है। ऐसा प्‍याज, लहसुन और हरी मिर्च के सेवन के कारण होता है। अगर आप भी इन तीनों चीजों को कच्‍चा या चटनी के रूप में शामिल करते हैं तो आपका मोटापा भी कम होगा और आप चर्बी मुक्‍त रहेंगे।

5. चीनी से दूरी

मोटापा कम करने के लिए चीनी को अपने जीवन से बिल्कुल दूर हटा दें और इस के बदले स्‍टीविया का उपयोग करें। स्टेविया नाम की जड़ी बूटी चीनी का स्थान ले सकती है और खास बात ये कि इसे घर की बगिया में उगाया जा सकता है। यह शून्य कैलोरी स्वीटनर है और इसका कोई दुष्प्रभाव नहीं है। इसे हर जगह चीनी के बदले इस्तेमाल किया जा सकता है। 

6. ग्रीन टी

वजन कम करने की चाह रखने वाले लोगों के लिए ग्रीन टी बहुत फायदेमंद होती है। ग्रीन टी एक बहुत ही अच्छा एंटीऑक्सीडेंट है जिससे फैट कम होता है। अगर आप हर रोज इसे लेते हैं तो आपके वजन में कमी जरूर देखी जा सकती है। यूनिवर्सिटी ऑफ मैरीलैंड मेडिकल सेंटर के शोधकर्ताओं के अनुसार, ग्रीन टी में विशेष प्रकार के पोलीफेनॉल्स पाए जाते हैं जिससे शरीर में फैट बर्न करने में मदद मिलती है।

7. सेब का सिरका

सेब के सिरके की मदद से वजन आसानी से कम कर सकते हैं। सिरके से रक्त शर्करा के नियन्त्रित होने के कारण यह वजन कम करने में सहायक है क्योंकि इन्सुलिन मुक्त शर्करा को वसा के रूप में संचित नहीं कर पाती है। सेब के सिरके को पानी के साथ मिलाकर हर रोज सुबह लेना चाहिए।

Fast Weight Loss Tips In Hindi At Home


1. खाने में ज्यादा फाइबर लें

फाइबरयुक्त खाना खाने से सिर्फ सेहत ही अच्छी नहीं होती है, बल्कि वज़न भी संतुलित रहता है। तो मक्का, दालें, फल, ब्राउन ब्रेड, रेशेदार सब्जियाँ, सूखे मेवे, गेहूँ के आटे की रोटी और मटर जैसे भोज्य पदार्थों को अपने डाइट प्लान में जरूर शामिल करें।

2. छोटी प्लेट में खाएं

आप सोच रहे होंगे कि छोटी प्लेट में खाने से वज़न कम होने का क्या सम्बन्ध है? तो दोस्तों, छोटी-बड़ी प्लेट में खाने का मतलब भोजन की मात्रा कम या ज्यादा होने से है। छोटी प्लेट में खाना कम आएगा और आपको प्लेट भरी हुई दिखाई देगी। इससे आपका पेट कम खाने में भर जाएगा।

3. तली हुई चीजें न खायें

कुछ लोग तली हुई चीजों के बड़े शौक़ीन होते हैं। लेकिन तली हुई चीजें खाने से मोटापा ही नहीं बढ़ता बल्कि दूसरी समस्याएं भी पैदा हो जाती हैं। इसलिए यदि आप चाहते हैं कि आपका मोटापा कम हो जाए तो आज से तली हुई चीजें खाना बंद कर दें। ऐसा करने से आपका वज़न कम होने लगेगा।

4. शहद और दालचीनी

यदि आप एक कप गर्म पानी में एक चम्मच दालचीनी और एक चम्मच शहद मिलाकर रोज़ाना लेते हैं तो शरीर के विषाक्त पदार्थ बाहर निकल जाते हैं। इससे हमारा मेटाबोलिज्म सिस्टम सुधरता है। साथ में दालचीनी लेने से भूख नियंत्रित रहती है।

5. नारियल तेल

नारियल का तेल हमारे लिए कई रूप से फायदेमंद रहता है। इसे हम खाने में तथा शरीर की त्वचा पर इस्तेमाल कर सकते हैं। यदि हम इसे खाने में इस्तेमाल करते हैं, तो इससे हमारी पाचन क्रिया एक दम सही रहती है। जिससे हमें वज़न कंट्रोल करने में लाभ मिलता है। इसीलिए, अभी से अपने घर में खाना बनाने में प्रयुक्त होने वाले तेल को बदलकर नारियल के तेल का उपयोग शुरू कर दीजिये।

6. लेमन जूस

नींबू पानी वज़न कम करने का सबसे आसान घरेलू उपाय है। नीबू हमारे शरीर से विषैले पदार्थों को मूत्र मार्ग से बाहर निकाल कर पाचन क्रिया को सही रखता है, जिससे हमारा फैट कम होता है। एक चम्मच नींबू का रस, एक चम्मच शहद और आधी चम्मच काली मिर्च को एक गिलास पानी में मिलाकर रोज़ाना खाली पेट पीने से वज़न कम होता है।

7. खीरा

जब भी हम खाना खाते हैं, तो हमें खाने के साथ खीरे का इस्तेमाल जरुर करना चाहिए। भोजन के साथ खीरे का सलाद लेने से हमारी पाचन क्रिया ठीक रहती है। यदि आपकी पाचन क्रिया बिल्कुल ठीक काम कर रही है, तो फिर मोटापा बढ़ने के चांस नहीं होते हैं।

How To Lose Weight Fast Without Exercise In Hindi


1. ज्यादा Protin का सेवन करे

आपका शरीर वास्तव में आपके द्वारा खाए जाने वाले प्रोटीन को पचाने से कैलोरी जलाता है।

शोध से पता चलता है कि एक उच्च प्रोटीन आहार आपके चयापचय को बढ़ावा दे सकता है और आपको अधिक लंबे समय तक महसूस कर रहा है।

यदि आप अपने पूरे दिन पर्याप्त मांस या अन्य उच्च प्रोटीन स्रोत प्राप्त करने के साथ संघर्ष करते हैं तो अपने आहार में कुछ प्रोटीन पाउडर जोड़ें।

2. अधिक फाइबर का उपभोग करें

वजन कम करने की कोशिश करने के लिए आप जो भी कर रहे हैं, अधिक फाइबर खाने से मदद मिल सकती है।

किसी भी अन्य बदलाव किए बिना अपने आहार में फाइबर जोड़ने से आप वही मात्रा में वज़न कम कर सकते हैं जो अमेरिकी हार्ट एसोसिएशन द्वारा अनुशंसित कम वसा वाले आहार का पालन करते हैं।

3. अस्वास्थ्यकर खाद्य पदार्थ न खरीदें

यह कहने के बिना जा सकता है, लेकिन अगर आपके घर में अस्वास्थ्यकर भोजन है, तो आप इसे खाने जा रहे हैं। स्वस्थ, ताजे खाद्य पदार्थों पर स्टॉक करें जो क्रंच के लिए आपकी इच्छाओं को पूरा करते हैं और पूर्णता की भावना को पूरा करते हैं।

4. अधिक नींद करें

नींद आपके आहार को नियंत्रित करती है, आपकी वसा कोशिकाओं को बदलती है, आपकी इच्छाओं को बढ़ाती है और आपके कसरत को कम प्रभावी बनाती है।

नींद की कमी आपको कर सकती है:

खाने के बाद कम संतुष्ट

रक्त में चीनी को कम प्रभावी ढंग से चयापचय करें

लेप्टिन और गेरलीन के हार्मोनल संतुलन को फेंक दो, जो आपको लालसा खाना बना सकता है

अस्वास्थ्यकर खाद्य पदार्थों से बचने के लिए इच्छाशक्ति खोना

अभ्यास से ठीक होने के लिए अधिक समय ले लो

नींद के महत्व पर हमारे दोस्तों से इस महान वीडियो को अपने जीवन पर अच्छी नींद के प्रभाव के बारे में अधिक जानकारी के लिए नींद के महत्व पर देखें।

5. अस्थायी उपवास का प्रयास करें

"उपवास" शब्द का उल्लेख होने पर बहुत सारे लाल झंडे तुरंत निकलते हैं, लेकिन पहले हमें सुनते हैं।

अस्थायी उपवास में स्वास्थ्य लाभों का नुकसान होता है और वजन कम करने में आपकी सहायता के लिए वैज्ञानिक रूप से सिद्ध किया गया है।

परेशान मत करो। खाने के बिना आप सूरज-नीचे कभी भी सूरज-अप नहीं जाएंगे।

आप बस 5 बजे (या 6 या 7) पर दिन का अपना अंतिम भोजन खाते हैं, और फिर आप उस दिन अगले दिन (5 बजे, या 6 या 7) तक कुछ भी नहीं खाते हैं।

यह आपको दिन के लिए अपनी कैलोरी कम रखने में मदद करता है, और यह आपको बोरियत और तनाव खाने के बारे में बहुत कुछ सिखाता है!

6. पर्याप्त कैल्शियम का उपभोग करें

यदि आप पहले से ही देख रहे हैं कि आप क्या खाते हैं, तो शोध से पता चलता है कि आप पर्याप्त कैल्शियम ले कर अपने वजन घटाने के प्रयासों को बढ़ा सकते हैं।

यदि आप डेयरी उत्पादों को खाते हैं (क्योंकि कैल्शियम पूरक लेने के विरोध में) यह प्रभाव और भी स्पष्ट है।

मैं प्रकृति मेड द्वारा इस कैल्शियम पूरक के अनुशंसा करता हूं जिसमें विटामिन डी भी शामिल है, एक और पोषक तत्व जो अधिकांश लोगों की कमी है।

अधिक कैल्शियम खाने का एक और लाभ यह है कि आप पेट के क्षेत्र के चारों ओर अधिक वसा जला देंगे।

7. अपने दाँतों को ब्रश करें

यदि उस मूंगफली के मक्खन और केले के स्वादिष्ट स्वाद ने आपने अपनी जीभ पर सिर्फ लिंगों को खा लिया है, तो आप अधिक भोजन के लिए वापस जाने की संभावना अधिक हो सकते हैं।

प्रत्येक भोजन के बाद अपने दांतों को ब्रश करके अपनी लालसा काट लें।

जब आप इसे एक छोटा सा मुंह से खाते हैं तो भोजन उतना अच्छा नहीं होता है। यह रात्रिभोज के बाद विशेष रूप से प्रभावी होता है जब आप टीवी के सामने स्नैकिंग करने का शिकार हो सकते हैं।

Tummy Loss Tips In Ayurveda In Hindi


1. रात को 10 p.m. to 6 a.m. तक नींद करे 

हमारे पूर्वजों पृथ्वी के प्राकृतिक ताल के अनुरूप रहते थे। जब सूर्य नीचे चला गया, तो उनके सोने का समय जल्द ही पीछा किया। फिर भी बिजली के आगमन के साथ, मनुष्यों ने प्राकृतिक लय से कृत्रिम लोगों में क्रमिक संक्रमण शुरू किया। नतीजतन, नींद की गुणवत्ता और समय समझौता किया गया है।

आधुनिक शोधकर्ताओं ने वजन बढ़ाने में योगदान कारक के रूप में अपर्याप्त नींद की पहचान की है। न केवल पर्याप्त आराम महत्वपूर्ण है, लेकिन सूर्य की लय के साथ मिलकर सोना उतना ही महत्वपूर्ण है। आयुर्वेद के मुताबिक, समय की अवधि जो आराम से नींद का सबसे सहायक है, 10 पीएम के बीच है। 

और 6 एएम वर्तमान शोध सूर्य के चक्रों के अनुरूप सांस लेने के महत्व की पुष्टि करना शुरू कर रहा है। प्रकृति की लय का अधिकतर उपयोग करने के लिए, अपनी स्क्रीन बंद करें और 9:30 बजे तक हवाएं शुरू करें। 10:00 बजे, रोशनी बंद करें और बिस्तर पर जाओ।

2. जागृति पर व्यायाम करें

व्यायाम करने का आदर्श समय 6 से 10 एएम के बीच है, जब पर्यावरण और पृथ्वी के तत्व पर्यावरण में उच्च होते हैं। पृथ्वी और पानी, संयुक्त होने पर, धीमा, ठंडाता, सुस्तता, और जड़त्व पैदा करते हैं। वास्तव में, आप सुबह में जागने पर उन गुणों का अनुभव कर सकते हैं।

व्यायाम आलस्य का विरोध करता है, शरीर को वार करता है, आपके दिमाग में ताजा खून लाता है, और शरीर और दिमाग दोनों को एक नए दिन के लिए तैयार करता है। प्रत्येक सुबह 45 से 60 मिनट जोरदार अभ्यास के लिए लक्ष्य रखें।

3. स्नैक्स काट लें

स्नैक्स करने या स्नैक करने के लिए, यह सवाल है- और जवाब नहीं है। जब आप खाते हैं, तो आपका शरीर इंसुलिन उत्पन्न करता है ताकि शक्कर को कोशिकाओं में शटल में मदद मिल सके और आपके रक्त शर्करा को संतुलित रखा जा सके। 

आपकी कोशिकाओं में प्रवेश करने वाली चीनी लगभग तीन घंटे तक औसत ऊर्जा आवश्यकताओं को ईंधन देगी। केवल उस समय के बाद आपका शरीर अपनी ऊर्जावान आवश्यकताओं को आपूर्ति करने के लिए वसा जलाने लगेगा। यदि आप हर तीन घंटे खाते हैं, तो आपके शरीर को कभी भी अपने वसा भंडार में डुबकी का मौका नहीं दिया जाता है।

 प्रत्येक दिन तीन पौष्टिक, संतुलित भोजन, जिसमें कोई स्नैक्स नहीं होता है, वास्तव में आपके भोजन के स्तर को लगातार भोजन से अधिक स्थिर कर देगा। इसके अलावा, आपकी वसा जलने की क्षमता में भारी वृद्धि होगी।

4. प्रत्येक भोजन में सभी 6 स्वाद शामिल करें

आयुर्वेद छह अलग-अलग स्वादों को पहचानता है: मीठा, खट्टा, नमकीन, कड़वा, तेज, और अस्थिर। खाने के बाद संतुष्ट होने के लिए, प्रत्येक भोजन में छः स्वादों में से प्रत्येक के कम से कम एक छोटे हिस्से को शामिल करना महत्वपूर्ण है। 

नीचे खाद्य पदार्थों के कुछ उदाहरण दिए गए हैं जो प्रत्येक स्वाद श्रेणी में पाए जा सकते हैं।

मीठे खाद्य पदार्थ मांसपेशियों का निर्माण करते हैं और ऊर्जा का उत्पादन करते हैं। पूरे अनाज, डेयरी, मांस, नट, फलियां, और मीठा फल जैसे खाद्य पदार्थ मीठा भोजन होते हैं।

खट्टा भोजन शरीर को साफ कर रहे हैं। उनमें साइट्रस फल, मसालेदार या किण्वित खाद्य पदार्थ, दही, और खट्टा क्रीम शामिल हैं।

नमकीन खाद्य पदार्थ पाचन और पोषक तत्वों का अवशोषण को उत्तेजित करते हैं। सागर नमक, सागर सब्जियां, और मछली सभी नमकीन खाद्य पदार्थ हैं।

उग्र खाद्य पदार्थ वे होते हैं जिनमें मसाला होता है। यह स्वाद साइनस को साफ़ करता है और चयापचय को उत्तेजित करता है। इस स्वाद श्रेणी में मिर्च, सरसों के बीज, अदरक, लौंग, प्याज, और कई मसाले शामिल हैं।
कड़वा खाद्य पदार्थ शरीर को detoxify। 

इस समूह में अंधेरे पत्तेदार हिरण और सब्जियां, कॉफी और कोको शामिल हैं।

अस्थिर भोजन मुंह में एक सुखाने की सनसनी पैदा करते हैं। वे शारीरिक ऊतकों को टोन करते हैं, गर्मी को कम करते हैं, और सूजन को शांत करते हैं। इन खाद्य पदार्थों में हरी चाय, अंगूर, गरबानो सेम, और अनार शामिल हैं।

5. दोपहर में अपना सबसे बड़ा भोजन खाओ

आयुर्वेद में एक कहावत है कि आप जो भी खाते हैं वह नहीं हैं, आप जो पाचन करते हैं वह आप हैं। वैदिक परंपरा में पाचन एक बहुत ही महत्वपूर्ण अवधारणा है ..

अपने पाचन को अधिकतम करने के लिए, दोपहर के भोजन पर अपना सबसे बड़ा भोजन खाएं। दोपहर का समय तब होता है जब आपकी पाचन आग, अग्नि के रूप में जानी जाती है, इसकी सबसे मजबूत है। रात का खाना हल्का और आसानी से पचाना चाहिए। इसके अलावा, सोने के समय से दो से तीन घंटे पहले रात के खाने को खत्म करने की सलाह दी जाती है। 

यदि आप 10 पीएम तक बिस्तर पर जा रहे हैं। (जो आदर्श है) तो रात के खाने को 7 पीएम तक पूरा करने की जरूरत है। न केवल आप अधिक अच्छी तरह सोएंगे, आपका शरीर भोजन की पाचन के बजाय detoxification और कायाकल्प के महत्वपूर्ण कार्यों में भाग लेने में सक्षम हो जाएगा।

6. गर्म पानी या चाय का सेवन करे 

वैदिक परंपरा में गर्म पानी एक स्वास्थ्य elixir का कुछ है। आयुर्वेद में ज्ञात विषाक्त पदार्थ, अमा के रूप में जाना जाता है, बाहरी स्रोतों (जैसे प्रदूषण, कीटनाशकों, खराब भोजन विकल्पों) और आंतरिक स्रोतों (जैसे तनाव, चिंता, क्रोध) से शरीर के भीतर जमा होता है। 

अमा प्रकृति से चिपचिपा है लेकिन गर्म पानी से भंग किया जा सकता है। आप जिस पानी को पीते हैं वह उतनी ही महत्वपूर्ण नहीं है जितनी आप सोप करते हैं। हर आधा घंटे गर्म पानी के कुछ sips रखने की कोशिश करो। गर्म पानी के फायदेमंद गुणों को और बढ़ाने के लिए आप ताजा अदरक या दोशा-विशिष्ट जड़ी बूटी और मसाले जोड़ सकते हैं।

7.  ध्यान का अभ्यास करें

शोधकर्ताओं ने पाया है कि उच्च तनाव से जुड़े हार्मोन वजन कम करने, विशेष रूप से पेट के वजन को कम करने की आपकी क्षमता को कम कर सकते हैं। 

सौभाग्य से, वर्तमान शोध से यह भी पता चलता है कि ध्यान अवांछित और तनाव मुक्त करने का एक शक्तिशाली तरीका है। अपने जीवन और अपनी कमर दोनों में परिणाम देखने के लिए, दिन में कम से कम 20 मिनट ध्यान के लिए समर्पित करें। 

चुपचाप बैठो, अपने शरीर को आराम करो, और अपनी सांस पर ध्यान केंद्रित करें। विचारों को फ़्लोटिंग बादलों की तरह गुजरने दें। आखिर में दिमाग शांत हो जाएगा, और आप एक नियमित ध्यान अभ्यास के सभी फायदेमंद प्रभाव प्राप्त करने में सक्षम होंगे।

Natural Weight Loss Tips In Hindi


1. अपने जीवन शैली को बदलने पर ध्यान केंद्रित करें

आहार उन चीजों में से एक है जो लगभग हमेशा दीर्घ अवधि में विफल रहता है। वास्तव में, जो लोग "आहार" समय के साथ अधिक वजन प्राप्त करते हैं।

केवल वजन कम करने पर ध्यान केंद्रित करने के बजाय, इसे अपने शरीर को स्वस्थ भोजन और पोषक तत्वों के साथ पोषित करने का प्राथमिक लक्ष्य बनाएं।

एक स्वस्थ, खुश, फिटर व्यक्ति बनने के लिए खाएं - न केवल वजन कम करने के लिए।

2. Whey  प्रोटीन का प्रयोग करें

अधिकांश लोगों को अकेले आहार से पर्याप्त प्रोटीन मिलता है। हालांकि, जो लोग नहीं करते हैं, उनके लिए एक मट्ठा प्रोटीन पूरक लेना प्रोटीन सेवन को बढ़ावा देने का एक प्रभावी तरीका है।

एक अध्ययन से पता चलता है कि मट्ठा प्रोटीन के साथ आपकी कैलोरी के हिस्से को बदलने से वजन घटाने का कारण बन सकता है, जबकि दुबला मांसपेशी द्रव्यमान भी बढ़ रहा है।

बस सामग्री सूची को पढ़ना सुनिश्चित करें, क्योंकि कुछ किस्में अतिरिक्त चीनी और अन्य अस्वस्थ additives के साथ लोड कर रहे हैं।

3. Cardio करे 

कार्डियो करना - चाहे वह जॉगिंग, दौड़ना, साइकिल चलाना, बिजली चलना या लंबी पैदल यात्रा करना है - कैलोरी जलाने और मानसिक और शारीरिक दोनों स्वास्थ्य में सुधार करने का एक शानदार तरीका है।

हृदय रोग के लिए कार्डियो को कई जोखिम कारकों में सुधार दिखाया गया है। यह शरीर के वजन को कम करने में भी मदद कर सकता है।

कार्डियो आपके अंगों के चारों ओर बनने वाली खतरनाक पेट वसा को कम करने और चयापचय रोग का कारण बनने में विशेष रूप से प्रभावी प्रतीत होता है।

4. अपने खाद्य व्यसन का मुकाबला करें

खाद्य व्यसन में आपके मस्तिष्क रसायन शास्त्र में गंभीरता और परिवर्तनों को सशक्त बनाना शामिल है जो कुछ खाद्य पदार्थों को खाने का विरोध करना कठिन बनाते हैं।

यह कई लोगों के लिए अतिरक्षण का एक प्रमुख कारण है, और जनसंख्या का एक महत्वपूर्ण प्रतिशत प्रभावित करता है। वास्तव में, हाल के एक 2014 के एक अध्ययन में पाया गया कि लगभग 20% लोगों ने खाद्य व्यसन के मानदंडों को पूरा किया है।

कुछ खाद्य पदार्थ दूसरों की तुलना में व्यसन के लक्षण पैदा करने की अधिक संभावना रखते हैं। इसमें अत्यधिक प्रसंस्कृत जंक खाद्य पदार्थ शामिल हैं जो चीनी, वसा या दोनों में उच्च होते हैं।

खाद्य व्यसन को हरा करने का सबसे अच्छा तरीका मदद लेना है।

5. भोजनों के बाद अपने दांतों को ब्रश से साफ करो

कई लोग खाने के बाद अपने दांतों को ब्रश या फ्लॉस करते हैं, जो भोजन के बीच स्नैक्स या खाने की इच्छा को सीमित करने में मदद कर सकते हैं।

ऐसा इसलिए है क्योंकि कई लोग अपने दांतों को ब्रश करने के बाद खाने की तरह महसूस नहीं करते हैं। इसके अलावा, यह भोजन स्वाद खराब कर सकता है।

इसलिए, यदि आप खाने के बाद मुंहवाश को ब्रश या उपयोग करते हैं, तो आप एक अनावश्यक स्नैक पकड़ने के लिए कम लुभाने वाले हो सकते हैं।

6. अधिक फाइबर खाओ

फाइबर समृद्ध खाद्य पदार्थ वजन घटाने में मदद कर सकते हैं।

खाद्य पदार्थ जिनमें पानी घुलनशील फाइबर होता है, विशेष रूप से सहायक हो सकता है, क्योंकि इस प्रकार का फाइबर पूर्णता की भावना को बढ़ाने में मदद कर सकता है।

फाइबर पेट खाली करने में देरी कर सकता है, पेट को बढ़ा सकता है और संतृप्त हार्मोन की रिहाई को बढ़ावा देता है।

आखिरकार, इससे हमें इसके बारे में सोचना बिना स्वाभाविक रूप से कम खाना पड़ता है।

इसके अलावा, कई प्रकार के फाइबर दोस्ताना आंत बैक्टीरिया खिला सकते हैं। स्वस्थ आंत बैक्टीरिया मोटापे के कम जोखिम से जुड़ा हुआ है।

पेट की असुविधा, जैसे सूजन, ऐंठन और दस्त से बचने के लिए धीरे-धीरे अपने फाइबर सेवन में वृद्धि करना सुनिश्चित करें।

7. अपने आहार में अंडे जोड़ें

अंडे परम वजन घटाने के भोजन हैं। वे सस्ते हैं, कैलोरी में कम हैं, प्रोटीन में उच्च हैं और पोषक तत्वों के सभी प्रकार से भरे हुए हैं।

कम प्रोटीन वाले खाद्य पदार्थों की तुलना में उच्च प्रोटीन खाद्य पदार्थ भूख को कम करने और पूर्णता में वृद्धि के लिए दिखाए गए हैं।

इसके अलावा, नाश्ते के लिए खाने के बैग की तुलना में, नाश्ते के लिए अंडे खाने से 8 सप्ताह में 65% अधिक वजन घटाने का कारण बन सकता है। यह आपको पूरे दिन भर में कम कैलोरी खाने में भी मदद कर सकता है।

असल मे हकीकत ये है की वजन कम करने से ज्यादा मुश्किल काम वजन को नियंत्रण मे रखना है। आप कुछ dieting tips और exercise या योगा से वजन तो कम कर लेते है। पर वजन कम करने के बाद आप फिर से इन सब चीजों को छोड़ कर फिर से आलसी हो जाते है और फिर से वजन बढ्ने लगता है। तो अगर आप को अपने वजन को नियंत्रित करना है तो आपको अनुशासन बनाके रखना बहोत आवश्यक है। 

55+ Weight Loss Tips in Hindi - वजन कम करने के उपाय इस article को पूरा पढ़ने के आपका धन्यवाद। अगर आप स्वास्थय से जुड़े कुछ बहेतरीन post email inbox मे पाना चाहते है तो इस ब्लॉग को subscribe करे।। अगर ये article आपको helpful लगे तो इस दूसरों के साथ share करके उनकी मदद करे।


No comments :

Post a comment